malai se desi ghee banane ki vidhi

malai se desi ghee banane ki vidhi

(malai se desi ghee banane ki vidhi) ढूध तो हम सभी के घर होता है. पर अक्सर बच्चों को या बड़ो को मलाई पसंद नही होती है. इस मलाई का प्रयोग हम बहुत ही अच्छी तरह कर सकते है. इस मलाई से हम घर मे देशी घी बना सकते है. आज कल बाज़ार का देशी घी (malai se desi ghee banane ki vidhi) शुद्ध नही होता है और साथ ही साथ महंगा भी होता है. बाज़ार से मिलावट देशी घी खरीदने के बजाये. हम आसानी से घर मे शुद्ध देशी घी बना सकते है.

मेरी माँ कहती है ढूध का हर रूप उपयोगी है. बस हमे इसे प्रयोग करना आना चाहिए. हमने तो बाज़ार का घी खाया ही नही है. बचपन से ही मेरी माँ ने घर में ही देशी घी निकाला है. (malai se desi ghee banane ki vidhi) मलाई से देशी घी निकलना मैंने अपनी माँ से ही सिखा है. शादी के बाद मैं भी घर में ही देशी घी निकलती हूँ. चलिए घर में देशी घी निकालने की विधि देखते हैं.

देशी घी के फायदे (Health Benefit of malai se desi ghee banane ki vidhi)

• घी खाने से हमारी memory तेज़ होती है.
• इसे हमारे शरीर की immunity बढती है.
• (desi ghee) देशी घी खाने से दिल से जुड़ी बीमारी होने की संभावना कम होती है.
• देशी घी खाने से digestive system अच्छा रहता है.

आवश्यक सामग्री – Ingredients to malai se desi ghee banane ki vidhi (Clarified Butter)

• मलाई —- 500 ग्राम
• दही —- 4 से 5 चमच्च
• पानी —- ½ लीटर

घर की मलाई से देसी घी कैसे निकालें – malai se desi ghee banane ki vidhi (Clarified Butter)

malai se desi ghee banane ki vidhi -image

(malai se desi ghee banane ki vidhi) अगर मलाई थोड़ी है तो चार पांच दिन मलाई एक बर्तन में इक्कठा करते रहे. इक्कठा की हुई मलाई को फ्रिज़ में ही रखे. मलाई में थोड़ा दही डाल के रखे. दही डालने से मलाई ख़राब नही होती है. जब मलाई इकट्ठी हो जाए तो मलाई को फ्रिज़ से बाहर निकालकर सादा पानी डाले और मथनी से मथे. मथनी से कुछ देर मलाई मथने के बाद मक्कन अलग हो जाएगा और मट्ठा अलग.

मक्कन को एक कटोरी में निकाल कर अलग कर ले. बचें हुए मट्ठे को आप चीनी या नमक डाल कर पी सकते है. या फिर कढ़ी बनाने में प्रयोग कर सकते है. अब एक कहाड़ी ले उसे मध्यम आचं पे रख दे, कड़ाही में मक्खन डाल दे. जब मक्खन पिघलने लगे तो इसे चलाते रहे. थोड़ी देर में आप देखेगे कड़ाही की तली में मलाई इकठा होने लगी है. और देशी घी उपर आ गया है.

जब घी थोड़ा गुलाबी हो जाए तो आचं बंद कर दे. वरना तली पर लगा भाग जल जाएगा .

(malai se desi ghee banane ki vidhi) शुद्ध देशी घी तैयार है. थोड़ा ठंडा होने पे आप छन्नी से छान कर घी अलग कर ले. घर का ताज़ा शुद्ध देशी घी (Clarified Butter) खाए और दूसरो को भी खिलाये.

Also Read : chawal ka pitha recipe

इस रेसिपी से जुड़े अगर आपको कोई सवाल पूछने हो तो, कमेंट सेक्शन में जा कर कमेंट करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *