chakki ki sabzi is ready to eat

Chakki ki sabzi Recipe

आटे को आम तौर पर रोटी, पराठा, पूरी या फिर आटे का हलवा बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. पर आज हम आटे की सब्ज़ी बनाना सीखेगें. आटे की सब्ज़ी (chakki ki sabzi) को राजस्थान में चक्की की सब्ज़ी कहते है. ये आटे की सब्ज़ी राजस्थान में बहुत बनाई जाती है. चक्की की सब्ज़ी (aate ki sabzi recipe) बनाना मुझे मेरी मम्मी ने सिखाया हैं.

(chakki ki sabzi) आटे की सब्ज़ी खाने में स्वादिस्ट के साथ-साथ पौष्टिक भी होती है. इस सब्ज़ी के बारे में बहुत कम लोग ही जानते होंगें. जब मैंने भी ये सब्ज़ी पहली बार खायी थी तो मैं पहचान ही नही पाई की ये आटे से बनाई गयी है. मैंने तुरंत ये रेसिपी अपनी मम्मी से ले ली. तो चलिए आज हम आटे की सब्ज़ी (chakki ki sabzi) बनाने की रेसिपी देखते हैं.

गेहूं का आटे के फायदे (Health benefits of wheat flour) :

  • आटा हमारे शरीर की immunity को बढ़ाता है.
  • ये हमें diabetes से दूर रखता है.
  • आटा asthma से बच्चों को बचाता है.
  • ये औरतों को breast cancer से बचाता है.

आवश्यक सामग्री : Ingredients for chakki ki sabzi (aate ki sabzi)

  • आटा —- 250 ग्राम
  • पानी —- 1 गिलास
  • सरसों का तेल या कोई भी तेल —- 1 कटोरी
  • प्याज़ —- 2
  • लहसुन —- 8 से 10 कली
  • टोमेटो साँस —- ½ कटोरी
  • आलू —- 1 से 2
  • नमक —- स्वादानुसार
  • हल्दी —- ½ छोटी चम्मच
  • धनिया पाउडर —- 1 छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च —- ½ छोटी चम्मच
  • हरी मिर्च —- 1 से 2
  • खटाई —- ½ चम्मच
  • गरम मसाला —- ½ चम्मच
  • जीरा —- ½ चम्मच
  • मेथी —- ¼ चम्मच
  • राई —- ½ चम्मच
  • सौफ —- ½ चम्मच

विधि: method to make chakki ki sabzi (aate ki sabzi)

chakki ki sabzi -image 1
(chakki ki sabzi) आटे की सब्ज़ी बनाने के लिए सबसे पहले आटे को गूथं लें. जैसे की रोटी बनाने के लिए गूथते हैं. गुथे हुये आटे को कम से कम 4 से 5 घंटे के लिए रख कर छोड़ दें. इससे सब्ज़ी अच्छी बनती हैं. 4 घंटे बाद गुथे हुये आटे को अच्छे से धो लें.

chakki ki sabzi -image 2
गुथे हुये आटे को धोने के लिए एक भगोना ले लें. उसमे आधा भगोने से ज्यादा पानी भर लें. अब उसमे गुथे हुये आटे को डाल कर अच्छे से धोयें. भगोने के पानी को बार बार बदलते हुये आटे को धोते रहें.

chakki ki sabzi -image 3
गुथे हुये आटे को तब तक धोयें जब तक की भगोने का पानी साफ़ न निकले. जब आटा पूरी तरह से साफ़ हो जाए उसे एक तरफ रख दें.

chakki ki sabzi -image 4
एक कड़ाही ले लें. उसे गैस की मध्यम आंच पर रख दें. कड़ाही में तेल डालें और उसे गरम होने दें. तब तक आप धुले हुये आटे की छोटी- छोटी गोलियां बना लें. जब तेल गरम हो जाये इसमें आटे की गोलियों को डालें. तेल में डालने पर आटे की गोलियां फूल कर बड़ी हो जाएगी. इन्हें हल्का सुनहरा होने तक अच्छे से फ्राई करें. जब सारी आटे की गोलियां फ्राई हो जाए, कड़ाही से तेल निकाल लें. कड़ाही में बस 2 चम्मच तेल रहने दें.

chakki ki sabzi -image 5
कड़ाही में अब जीरा, मेथी, सौफ और राई डालें. जब ये तड़कने लगें इसमें पीसी हुई प्याज़, लहसुन और हरी मिर्च का पेस्ट डाल कर अच्छे से भूनें. अब इसमें हल्दी, नमक, धनिया पाउडर, लाल मिर्च और खटाई डाल कर मसाला को अच्छे से भूनें. मसाला को तब तक भूनें जब तक की ये तेल न छोड़ दें.

chakki ki sabzi -image 6
भुने हुये मसाले में टोमेटो साँस डाल कर इसे अच्छे से मिला लें.

chakki ki sabzi -image 7
एक तरफ आलू को काट कर फ्राई कर लें.

chakki ki sabzi -image 8
जब आलू फ्राई हो जाए, आलू और फ्राई कियें हुये आटे की गोलियों को मसाले में डाल दें. कड़ाही को एक प्लेट से ढक दें. कम से कम 5 से 10 मिनट के लिए.

chakki ki sabzi -image 9
अब इसमें 1 गिलास पानी डाल कर इसे पकने दें. जब आलू अच्छे से गल जाए और सब्ज़ी लटपटी (chakki ki sabzi banane ki vidhi) दिखने लगे (ग्रेवी गाढ़ी हो जाए). तब इसमें ऊपर से गरम मसाला डाल कर मिला लें और गैस की आंच बंद कर दें.

chakki ki sabzi is ready to eat
गरमा गरम आटे की सब्ज़ी (chakki ki sabzi) तैयार है. आप इसे रोटी, पराठें या पूरी के साथ खा कर इसका मज़ा लें सकते हैं.

Please Note (सुझाव):

  • आटा गुथने के बाद इसे 4 से 5 घंटे फूलने के लिए जरुर रखें. इससे सब्ज़ी (chakki ki sabzi) स्वादिस्ट बनेगी.
  • गुथे हुये आटे को अच्छे से पानी से धोयें. इससे आटे का चिप-चिपा पन ख़तम हो जायेगा.
  • आप ग्रेवी में टमाटर का पेस्ट भी डाल सकते हैं.

इस रेसिपी से जुड़े अगर आपको कोई सवाल पूछने हों तो, कमेंट सेक्शन में जा कर कमेंट करे.

 

2 Thoughts on “chakki ki sabzi | aate ki sabzi – आटे की सब्ज़ी”

    • @neha ji – chakki ki sabzi ko aap thora thanda kar ke khaayein, jisse ki aate ki goli gravy ko aache se sokh legi aur ye feeki nahi lagegi. jaise ki soya chunks gravy ko sokh leta hai. agar aap chahe to aate maine guthne se pehle thora namak daal kar guth sakti hain.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *